Breaking News

खास खबर

राकेश दुबे। कहने को भारत युवाओं का देश है। हर साल एक करोड़ से ज्यादा पढ़े-लिखे लेकिन सब हुनरमंद नहीं। युवा देश में नौकरी के लिए कालेजों से निकलते हैं। सबको नौकरी नहीं मिलती, सब...
Aug 26, 2019

राकेश दुबे।भारत के ग्रामीण इलाकों में सार्वजनिक स्वास्थ्य सेवा की पहुंच असंतोषजनक है, परिणाम- इलाज के अभाव और इलाज के लिए बड़े शहर पहुँचने से मौत एक आम बात है | अच्छे सरकारी व निजी...
Aug 26, 2019

राकेश दुबे।एक ताजे अध्ययन के अनुसार दुनियाभर के विकासशील देशों में कैंसर की बीमारी बहुत तेजी से बढ़ रही है, भारत भी इसकी चपेट में हैं। पंजाब से दिल्ली तो रोज चलने वाली एक ट्रेन...
Aug 20, 2019

राकेश दुबे।एक कहावत है “युद्ध और प्यार में सब जायज होता है।” अब युद्ध के औजारों में एक सदियों पुराने हथियार का नया संस्करण आ गया है और यह है मुद्रा युद्ध। पहले भारत...
Aug 14, 2019

राकेश दुबे।देश में लोकसभा चुनाव समाप्ति तक रोके गये रोजगार के आंकड़े अब सामने आये हैं। ये आंकड़े सबसे आधिकारिक स्रोत राष्ट्रीय सैंपल सर्वे ऑफिस (एनएसएसओ) के हैं। रोजगार-बेरोजगार सर्वेक्षण के अधिकारिक आंकड़े यही...
Aug 12, 2019

राकेश दुबे।स्वास्थ्य बीमा योजना आयुष्मान भारत ने ग्रामीण और शहरी क्षेत्रो में अजीब गोरखधन्धा फैला दिया है। अल्प शिक्षित ग्रामीण और शहरी, पढ़े-लिखे मरीजों के भी न जाने कितने मामले आते हैं जिनमें बीमे...
Aug 08, 2019

विजयदत्त श्रीधर। उत्तरप्रदेश और मध्यप्रदेश के बीच विभक्त बुन्देलखण्ड का इकजाई स्वरूप जब भारत के नक्शे में निहारते हैं, तब ऐसा प्रतीत होता है, जैसे राष्ट्र की नस-नाड़ियों को पुष्ट करता हुआ, हृदय धड़क...
Aug 02, 2019

राकेश कायस्थ।आरटीआई को लेकर लोगों की आवाज़ ना जाने क्यों इतनी धीमी है? सरकार चाहे आपकी जितनी भी दुलारी हो आप उसे अपने हाथ काटने की इजाज़त कैसे दे सकते हैं? सूचना का अधिकार...
Jul 29, 2019

राकेश दुबे।मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान अपनी धर्म बेटी के निधन पर ढाढ़े मार—मार कर रोये। समय पर इलाज न मिलने से उनकी बेटी की मौत हो गई थी। मध्यप्रदेश की राजधानी...
Jul 29, 2019

हेमंत कुमार झा।आंदोलनों का अपना चरित्र होता है और वे कितने प्रभावी होंगे यह उनके चरित्र बल पर भी निर्भर करता है। रेलवे और सार्वजनिक क्षेत्र के अन्य कर्मियों के आंदोलनों को इस कसौटी...
Jul 18, 2019